खरी-खरी

आउट करो ‘लिव इन’ को… बख्श दो शराफत के जीवन को

कानून के खंजर से अरमानों का खून… जब सभ्यता का कत्ल हो जाएगा… मर्यादा की मौत पर मातम मनाया जाएगा… संस्कृति का चीरहरण खुलेआम नजर आएगा… तब रिश्तों का जीवन कहां रह जाएगा… जब संविधान कानून के हाथों नोंचा जाएगा… फड़तुस कानून बनाकर समाज को रौंदा जाएगा… वर्षों से चली आ रही सामाजिक संस्कृति, परिपाटी, […]

खरी-खरी

मुकाबला मोदी से… और कांग्रेस के पास मच्छर तक नहीं

वक्त हर किसी का आता है…जो शिखर पर हो वो जमीन पर आता है… ताकि वक्त की ताकत और इंसान की हिमाकत का फैसला हो सके…यह वही कांग्रेस है, जिसके नाम में आजादी की जंग, विकास का रंग और विश्वास का संग था…साठ साल की अद्भुत सत्ता में कहीं गांधी, नेहरू और शास्त्रीजी के नामों […]

खरी-खरी

सारे शेर नाराज हैं…. अब चीतों के सर पर मोदी का हाथ है…

इसे कहते हैं मोदी मेहरबान तो चीता पहलवान…अफ्रीकी देश नामीबिया के जंगल में मारे-मारे फिरते चीतों की ऐसी तकदीर खुली कि भूखे मरते… डरते-सहमते शेरों की दहाड़ में दुबककर रहते चीतों को जंगल से निकालकर विमानों में लादकर विशाल भारत जैसे देश में लाकर सर पर बिठाया गया… अगवानी के लिए बड़े-बड़े नेताओं को लगाया […]

खरी-खरी

भाजपा से बड़े हो चुके मोदी…

आज तो बधाई बनती है मोदीजी … जीवन के 72 वसंत पार कर लिए… सौ बरस जीना है… जीवन तो हर कोई लेता है, पर जन्म किसी-किसी का सफल होता है… मोदी ऐसी ही शख्सियतों में से एक हैं, जिन पर पूरा देश नाज करता है… एक दल अपने नेता को पहचान देता है, लेकिन […]

खरी-खरी

देशभर का कचरा भाजपा उठा लाएगी तो अपने समर्पित नेताओं से इंसाफ कैसे कर पाएगी

मध्यप्रदेश आपके पास है… महाराष्ट्र आप छीन चुके हो… आंध्रप्रदेश, दमनदीव, अरुणाचल प्रदेश में आप सेंध लगा चुके हो… अब गोवा आपको हजम नहीं हो पा रहा है… गुजरात पर भी आपकी नजरें लगी हुई हैं… लेकिन यह तो सोचो देशभर का कचरा अपने घर में उठा लाओगे तो अपने समर्पित नेताओं से कैसे इंसाफ […]

खरी-खरी

सैकड़ों के सपने धूल का गुबार बन रहे थे… और पूरा देश तालियां बजा रहा था…

कितना नादान है यह देश, जो तबाही की खुशियां मनाता है…बर्बादी पर जश्न के गीत गाता है…दूसरों के आंसुओं पर मुस्कराता है… क्षणभर में धूल का गुबार बने नोएडा के ट््िवन टॉवर के मलबे को भ्रष्टाचार की तबाही बताकर गूंजते टीवी चैनल, उनके भोंपूओं से सुर मिलाते सोशल मीडिया और अपने पन्नों को भरकर खबर […]

खरी-खरी

जहां-जहां राहुल वहां-वहां आजाद होने को बेकरार हैं गुलाम

जहां-जहां राहुल वहां-वहां आजाद होने को बेकरार हैं गुलाम…जहां समझदारी से बड़ी जिम्मेदारी हो जाती है, वहां राहुल जैसी मुसीबत आती है…पिता और परिवार की विरासत जहां संभाली नहीं जाती, वहां सम्पत्ति, सम्मान और समृद्धि लुटने लग जाती है… लोग साथ छोड़ जाते हैं… अपने पराए हो जाते हैं… पराए गले पडऩे लग जाते हैं…यही […]

खरी-खरी

ममता देख ली… अब माया देख लो…सूती साड़ी… कच्चा मकान… और अंदर निकली इतनी बड़ी दुकान…

पश्चिम बंगाल की सीधी सादी दिखने वाली ममता का मंत्री आधा अरब रुपया नकद बटोरता है… अभिनेत्री से नैन-मटक्का रखता है… उसके घर को बैंक समझता है… पूरे प्रदेश में डाकेजनी करता है…यह तो वो है जो सामने दिखता है… अभी तो कई राज खुलेंगे… नोटों के और ढेर लगेंगे…जमीन-जायदाद, बेनामी संपत्ति के भंडार नजर […]

खरी-खरी

वैभवशाली परम्पराओं के बीच ऐसे गूंजे सादगी के सुर

क्या यह जरूरी था महामहिम… दो दिन पहले आपको किसी मंदिर में झाड़ू लगाते, एक साधारण से घर में रहते और आम लोगों के बीच गुजर-बसर करते देखा था तो लगा था देश एक बार फिर गांधी-शास्त्री की सादगी को सर्वोच्च पद पर निहारेगा…लेकिन कल केवल आपके शपथ समारोह के लिए सेना के तीनों अंगों […]

खरी-खरी

मोदीजी…यह अच्छी बात नहीं…

जनता ने विपक्ष रचाया… सरकार की निरंकुशता के लिए अंकुश लगाया… आपने जनता की मंशा को ढहाया… यह कैसा प्रपंच दिखाया… पूरे देश की सत्ता आपके पास है… पूरे देश का विश्वास आपके साथ है… आप दुनिया के चहेते राष्ट्राध्यक्ष हैं… आप लोगों की पसंद के प्रधान सेवक हो… फिर हासिल करने की यह कैसी […]