भाजपा में 45 की उम्र का फंडा चला तो कई पूर्व पार्षद दावेदारी से हो जाएंगे बाहर


45 की उम्र पार कर चुके कई पूर्व पार्षद फिर लडऩा चाह रहे हैं चुनाव

इन्दौर। संजीव मालवीय। भाजपा ने अपने संगठन में पदाधिकारियों पर उम्र का बंधन लागू करने के बाद अब आने वाले निगम चुनाव में पार्षद पद के दावेदारों के लिए भी उम्र का बंधन लागू करने पर विचार करना शुरू कर दिया है। भोपाल में इसको लेकर चर्चा चल रही है कि 45 साल तक के युवाओं को ही पार्षद चुनाव में तवज्जो दी जाए और जहां उम्मीदवार नहीं मिले वहां इस उम्र से ज्यादा के उम्मीदवार लिए जा सकते हैं। उम्र का फंडा अगर चला तो ऐसे पार्षद, जिनका कार्यकाल समाप्त हो चुका है, दावेदारी से दूर हो जाएंगे।
जिस तरह से भाजपा युवाओं पर ज्यादा जोर दे रही है, उससे लग रहा है कि भाजपा आने वाले दिनों में उन कंधों पर पार्टी को खड़ा करना चाहती है, जो लंबे समय तक पार्टी को लेकर चले। अभी युवाओं की जो फौज पार्टी से जुड़ी है उसमें ऊर्जा भी है और पार्टी इसके साथ नवाचार भी करना चाहती है। हालांकि वरिष्ठों को भी पार्टी साथ लेकर चलना चाहती है। अभी भाजपा ने मंडल अध्यक्षों के लिए 40 तो नगर अध्यक्ष के लिए 45 साल की उम्रसीमा तय की थी और उसके अनुसार संगठन का खाका तैयार किया गया है। अब भोपाल से खबर निकलकर आ रही है कि निगम चुनावों में भी भाजपा उम्र का प्रयोग लागू कर नगरीय निकायों की कमान युवाओं के हाथों में देना चाहती है। इसको लेकर चर्चा भी शुरू हो चुकी है और अगर वरिष्ठ नेता इस पर मुहर लगा देते हैं तो निकाय चुनाव में पार्षद उम्मीदवारों के लिए 45 साल की उम्रसीमा तय की जा सकती है। अगर ऐसा रहा तो चुनाव लडऩे के इच्छुक कई दावेदार स्वत: ही बाहर हो जाएंगे। इनमें पिछली महापौर परिषद के कई पार्षद भी शामिल हैं।

45 का पड़ाव पार कर चुके हैं ये दावेदार
गोपाल मालू, चंदगीराम यादव, भागवती मांगीलाल रेडवाल, संतोष गौर, चन्दा सुरेन्द्र वाजपेयी, भगवानसिंह चौहान, अश्विन शुक्ला, पार्वती अशोक कुशवाह, शकुंतला गुर्जर, राजकपूर सुनहरे, चंदूराव शिंदे, सुधा चौधरी, राजेन्द्र राठौर, मुन्नालाल यादव, नंदाबाई गावड़े, शोभा रामदास गर्ग, सरिता मंगवानी, कंचन गिदवानी, राजेश शुक्ला, सुधीर देडग़े, विनीता धर्म, लता लड्ढा, देवेन्द्रसिंह रावत, ज्योति तोमर, संजय कटारिया, अजयसिंह नरूका, दिलीप शर्मा, सूरज कैरो, कविता खोवाल, आशा होलास सोनी, सुनीता राजेश सोलंकी, सुभाष चौधरी, सुरेन्द्रसिंह छाबड़ा, पुष्पा बसंत पारगी, सावित्री ओमप्रकाश आर्य, रेखा हेमेन्द्रसिंह ठाकुर,
बलराम वर्मा आदि।

Next Post

मौसम में बदलाव, दक्षिणी राज्य के निवार तूफान का असर मालवा में

Thu Nov 26 , 2020
इंदौर। मौसम में बार-बार बदलाव अब आमजन की आदत में आ चुका है। मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान भी बदल रहा है। दक्षिण भारत के राज्यों में निवार तूफान ने मालवा के मौसम का मिजाज भी बदल दिया है। गुरुवार सुबह आसमान में बादल छा गए हैं। नवंबर का महीना खत्म […]

Know and join us

news.agniban.com

month wise news

January 2021
S M T W T F S
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31