कमलापति आर्च ब्रिज के लोकार्पण में देरी से नाराज महापौर आलोक शर्मा बैठे धरने पर

भोपाल। राजधानी की रंगत को निखारने और यातायात समस्या के समाधान के लिए बनाए जा रहे आर्च ब्रिज के निर्माण में हो रही देरी और लोकार्पण नहीं होने से नाराज भोपाल के महापौर आलोक शर्मा शुक्रवार को धरने पर बैठ गए। उन्होंने प्रदेश सरकार को तीन दिन का अल्टीमेटम दिया है।
धरना स्थल पर मीडिया से बातचीत करते हुए महापौर आलोक शर्मा ने कहा कि जब से प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी है भाजपा की निगम परिषद द्वारा तय किए गए कामों में रोड़ा अटका रही है। 2016 में तत्कालीन सीएम शिवराज सिंह चौहान ने रानी कमलापित आर्च ब्रिज का भूमिपूजन किया था, जिसे साल 2018 में पूरा हो जाना था लेकिन कांग्रेस पार्षद और नेताओं ने काम में रोड़ा अटका कर काम को प्रभावित कर रहे है। हम चाहते है सीएम कमलनाथ स्वयं आए और ब्रिज का लोकार्पण करे, लेकिन कोई तैयार ही है। करोड़ों की लागत से बना ब्रिज अनदेखी के चलते बर्बाद हो रहा है। महापौर आलोक शर्मा ने प्रदेश सरकार को तीन दिन का अल्टीमेटम देते हुए कहा है कि  तीन दिन के अंदर अगर ब्रिज का लोकार्पण नहीं हुआ तो महापौर आलोक शर्मा स्वयं ब्रिज का लोकार्पण करेंगे।
कांग्रेस पार्षद ने जलाया महापौर का पुतला
महापौर आलोक शर्मा के धरना प्रदर्शन से नाराज होकर क्षेत्र की कांग्रेस पार्षद साबिस्ता जक़ी ने महापौर के धरना स्थल पर उनका पुतला जलाया। इस दौरान पार्षद साबिस्ता ने महापौर पर गम्भीर आरोप लगाते हुए कहा कि महापौर ने भोपाल का विकास करने की बजाए भोपाल का विनाश किया है। साबिस्ता ने कहा महापौर आलोक शर्मा चाहे तो अपने सिर का बाल मुड़वाकर घूमे किसी को कोई परवाह नहीं। (हि.स.)

 

Shar­ing is car­ing!

agniban

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

मप्र के पूर्वी हिस्से में बारिश की गतिविधियां फिर से तेज़ होने की संभावना 

Fri Feb 7 , 2020
भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम के बदलते मिजाज और ठंड के असर के बीच पूर्वी हिस्से में बारिश की गतिविधियां फिर से तेज़ होने की संभावना बन रही हैै। मौसम विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार एक सिस्टम दक्षिणी छत्तीसगढ़ तक बनेगी। इसी सिस्टम के चलते पूर्वी मध्य प्रदेश […]