हमारे बल्लेबाजों को भारतीय गेंदबाजों का सामना करने में कोई दिक्कत नहीं होगी : जस्टीन लैंगर

सिडनी। ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कोच जस्टीन लैंगर ने कहा है कि उनकी टीम पिछले कुछ समय से सीमित ओवरों में लगातार भारत के खिलाफ खेल चुकी हैं,जिससे उनके बल्लेबाजों को भारतीय गेंदबाजों का सामना करने में कोई दिक्कत नहीं होगी।

लैंगर ने कहा, “हम जानते हैं कि जसप्रीत बुमराह विश्व स्तर के गेंदबाज हैं। मोहम्मद शमी के साथ यह एक शानदार ओपनिंग जोड़ी होगी। आईपीएल में खेलकर हमारे खिलाड़ियों ने इन्हें परखा है। पिछले कुछ ग्रीष्मकाल में हमने 14 एकदिनी खेले हैं। हमारे खिलाड़ियों ने उन्हें काफी देखा है। मुझे प्रतिद्वंदिता के बारे में यह बात पसंद है। हम उनके स्पिनरों का, बुमराह, शमी का सम्मान करते हैं। उनके बाकी के गेंदबाज जैसे नवदीप सैनी का भी।”

जब लैंगर से पूछा कि क्या रोहित और ईशांत के शुरुआती दो टेस्ट मैचों में न रहने से ऑस्ट्रेलिया को फर्क पड़ेगा ? जवाब में लैंगर ने कहा, “यह हमारा काम नहीं है। हमारी अपनी चुनौतियां हैं। हम मैच की सुबह पहली बार एक ग्रुप के तौर पर एक साथ आएंगे। यह भारत के ऊपर है कि वो क्या करती है और किसे चुनती है। इन बातों पर हमारा कोई नियंत्रण नहीं होगा।”

उन्होंने कहा, “कोविड-19 के दौरान एक चीज मैंने सीखी है कि अगर आप उन चीजों पर ध्यान देंगे जो आपके बस में नहीं हैं तो आप पागल हो जाएंगे। वह जिसे चाहें उसे चुन सकते हैं।”

रोहित और ईशांत इस समय राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में रीहैब कर रहे हैं। ऐसी खबरें हैं कि यह दोनों शुरुआती दो टेस्ट मैचों से बाहर हो सकते हैं क्योंकि इन्हें ठीक होने में समय लगेगा और वह फिर सख्त क्वारंटीन से गुजरेंगे। भारत और आस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर-गावस्कर सीरीज का पहला टेस्ट 17 दिसंबर से और दूसरा टेस्ट 26 दिसंबर से शुरू हो रहा है। टेस्ट सीरीज की शुरुआत से पहले भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की एकदिनी और इतने ही मैचों की टी-20 सीरीज खेली जाएगी। (एजेंसी, हि.स.)

Next Post

एलवीबी शुक्रवार से हो जाएगा डीबीएस बैंक, पैसे निकालने की लिमिट खत्‍म

Thu Nov 26 , 2020
– बैंक के 20 लाख जमाकर्ताओं और 4 हजार कर्मचारियों को मिलेगी राहत नई दिल्‍ली। लक्ष्‍मी विलास बैंक (एलवीबी) का 27 नवम्‍बर को सिंगापुर के डीबीएस बैंक की भारतीय इकाई में विलय हो जाएगा। केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा डीबीएस बैंक में एलवीबी के विलय प्रस्ताव को मंजूरी दिए जाने के बाद […]

Know and join us

news.agniban.com

month wise news

January 2021
S M T W T F S
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31