मप्र के पूर्वी हिस्से में बारिश की गतिविधियां फिर से तेज़ होने की संभावना 

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम के बदलते मिजाज और ठंड के असर के बीच पूर्वी हिस्से में बारिश की गतिविधियां फिर से तेज़ होने की संभावना बन रही हैै। मौसम विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार एक सिस्टम दक्षिणी छत्तीसगढ़ तक बनेगी। इसी सिस्टम के चलते पूर्वी मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में एक बार फिर से बारिश हो सकती है। इन क्षेत्रों में कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि और गरज के साथ मध्यम वर्षा भी हो सकती है। वहीं, तेज हवाएं चलने की भी संभावना है।
मौसम विज्ञानियों के अनुमान के अनुसार जबलपुर एवं शहडोल संभागों के जिलों सहित मंडला, जबलपुर, दमोह सहित पूर्वी मध्य प्रदेश में अच्छी बारिश होने की उम्मीद है। मौसम केंद्र के अनुसार जम्मू और कश्मीर एवं आसपास के क्षेत्रों पर स्थित एक चक्रवाती संचलन के रूप में पश्चिमी विक्षोभ पूर्वोत्तर की ओर दूर चला गया है। औसत समुद्र से 5.8 किमी ऊपर अपनी धुरी के साथ मध्य और ऊपरी क्षोभ मण्डल में एक द्रोणिका के रूप में कमजोर पश्चिमी विक्षोभ अब लगभग 71ए पूर्वी देशांतर से लेकर 30ए अक्षांश तक चलायमान है।
वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने जानकारी देते हुए बताया कि 11 फरवरी से पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में एक ताजा कमजोर पश्चिमी विक्षोभ का असर होने की संभावना है। एक चक्रवाती परिसंचरण मध्य महाराष्ट्र और आसपास के क्षेत्रों पर औसत समुद्र तल से 0.9 किमी ऊपर स्थित है। दक्षिण आंतरिक कर्नाटक से पूर्वी विदर्भ तक औसत समुद्र तल से 0.9 किमी ऊपर पूर्वी हवाओं (ईस्टरली) में द्रोणिका अब अब दक्षिण आंतरिक कर्नाटक से उत्तर आंतरिक कर्नाटक से होती हुई चक्रवाती परिसंचरण के केंद्र तक चलायमान है।
पूर्वी मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीते कुछ दिनों से रुक‑रुक कर बारिश की गतिविधियां देखने को मिलती रही है। हालांकि पिछले 24 घंटों के दौरान बारिश में कुछ कमी आई क्योंकि कॉन्फ्लुएंस जोन पूर्वी भारत की ओर बढ़ गया है। मध्य प्रदेश में रुक‑रुक कर बारिश 8 फरवरी तक जारी रहेगी। इसके बाद 9 फरवरी से बारिश की गतिविधियां ओडिशा और पश्चिम बंगाल की तरफ बढ़ जाएंगी और मध्य भारत के राज्यों में मौसम साफ हो जाएगा। मौसम साफ होने के साथ ही इन भागों में दिन के तापमान में फिर से वृद्धि देखने को मिलेगी।
फिलहाल 8 फरवरी तक बादल छाने और बारिश होने के चलते पूर्वी मध्य प्रदेश ज़्यादातर शहरों में दिन का तापमान सामान्य से तीन से चार डिग्री कम रहेगा। दूसरी ओर इसी दौरान न्यूनतम तापमान सामान्य से 2–3 डिग्री सेल्सियस अधिक रहेगा। पूर्वी मध्य प्रदेश के एक‑दो स्थानों पर छिटपुट हल्की से मध्यम बारिश होने की उम्मीद है। अगले 24 घंटों के लिए पश्चिमी में न्यूनतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं होने की उम्मीद है और इसके बाद 2–3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट की संभावना है। (हि.स.)

Shar­ing is car­ing!

agniban

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

कैलाश विजयवर्गीय हुए गिरफ़्तार!

Fri Feb 7 , 2020
भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय को कोलकत्ता में सी ए ए के समर्थन में रैली के दौरान गिरफ़्तार कर लिया गया। उन्होंने कहा की  “कोलकाता में आज मेरी सी ए ए के समर्थन में मेरी रैली थी और वहाँ से पुलिस ने मुझे गिरफ्तार कर लिया और लाल बाज़ार […]