आज गुंडे मुख्तियार के 15 गोडाउनों को ढहाया

  • कई बार ढहाया फिर गुंडागर्दी का साम्राज्य फैलाया, एक बार और पुलिस के निशाने पर आया
  • राधिकाकुंज में कई जगह खाली प्लाटों तो कहीं ग्रीन बेल्ट की जमीनों पर तान दिए थे गोडाउन
  • कई लोगों को सामान रखने के लिए किराए पर दिए थे, निगम ने तोड़े
  • तीन साल पहले भी निगम ने ढहाए थे गोडाउन, फिर बना लिए
  • सुबह-सुबह निगम का भारी-भरकम अमला एलआईजी लिंक रोड पर पहुंचा

इन्दौर। बडऩगर से आकर इन्दौर में गुंडागर्दी का साम्राज्य फैलाने वाले कुख्यात गुंडे मुख्तियार के राधिकाकुंज में कब्जा कर बनाए गए दुकान, गोडाउन और शेड कई जेसीबी और पोकलेन की मदद से चकनाचूर कर दिए गए। वहां एक मकान सहित 15 गोडाउन, शेड और दुकानें बना ली गई थीं, जिन्हें सुबह-सुबह निगम की टीम ने ढहा दिया। तीन साल पहले भी इसी स्थान पर निगम की टीम ने ऐसे गोडाउन, दुकान और मकान तोड़े थे, मगर गुंडे की हिमाकत इतनी थी कि उसने तीन साल में फिर से गोडाउन-शेड बनाकर किराए पर दे दिए। क्षेत्र में कार्रवाई के दौरान भारी मात्रा में पुलिस बल लगाया गया था। इसके अलावा अन्य गुंडों के मकानों पर भी आज कार्रवाई को लेकर तैयारी है।

खजराना, विजयनगर, एमआईजी सहित कई थानों के कुख्यात गुंडे मुख्तियार पर कब्जा करने, धमकाने, प्लाट हथियाने, धोखाधड़ी करने और कई अन्य मामलों के प्रकरण दर्ज हैं। उसे पूर्व में पुलिस ने गिरफ्तार भी किया था, लेकिन वह छूट गया था और उसके बाद फिर से अवैध कार्यों में लिप्त हो गया। खजराना पुलिस के अनुसार इन्दौर के थानों के अलावा बडऩगर में भी उस पर पुलिस प्रकरण दर्ज है। आज सुबह 6.30 बजे नगर निगम, पुलिस और प्रशासन का अमला कार्रवाई के लिए एमआईजी थाने पर जमा हुआ और उसके बाद वहां से पूरा दल-बल एलआईजी लिंक रोड पर पेट्रोल पंप के सामने मुख्तियार के कब्जे ढहाने पहुंच गया।

बब्बू-छब्बू की गैंग में भी रहा है शामिल
पुलिस अधिकारियों के मुताबिक गुंडे मुख्तियार पर बडऩगर में एक युवती को भगाकर ले जाने का मामला दर्ज हुआ था और वह पूर्व में खजराना क्षेत्र के कुख्यात बब्बू-छब्बू गैंग में भी शामिल रहा है। बब्बू-छब्बू के मकानों पर भी निगम और पुलिस ने इसी प्रकार कार्रवाई करते हुए खजरान में उसके मकानों को ध्वस्त कर दिया था। पिछले कुछ समय से वह अपने स्तर पर कब्जे और प्लाटों की हेराफेरी के कामों को अंजाम देने लगा था। कई कालोनियोंं में रहने वाले लोगों ने पुलिस में उसके खिलाफ शिकायत देकर मुकदमे भी दर्ज कराए हैं।

हरियाली की जमीन पर नोटों की खेती
निगम के अपर आयुक्त देवेंद्रसिंह के मताबिक मुख्तियार ने राधिकाकुंज में ग्रीन बेल्ट की जमीन पर 15 से ज्यादा स्थानों पर कब्जा कर दुकान, गोडाउन और शेड का निर्माण कर लिया था। इसके साथ-साथ उसने रहने के लिए मकान भी बनाया था, जिसे भी ढहाने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। निगम की टीमों ने चार जेसीबी और पोकलेन के माध्यम से गोडाउन, शेड और अन्य कब्जे हटाने की कार्रवाई सुबह-सुबह तेजी से पूरी कर ली।

तोड़फ़ोड़ के बाद निगम के डंपरों में ट्रेंचिंग ग्राउंड भेजा सामान
नगर निगम की टीमों ने आज सुबह एलआईजी लिंक रोड पर कार्रवाई के बाद बड़ी संख्या में टीनशेड और गोडाउन तोडऩे के बाद वहां जमा हुए सामान को हटाना शुरू कर दिया था। निगम के डंपरों में रिमूवल विभाग के कर्मचारियों ने पतरे और अन्य सामान भरकर ट्रेंचिंग ग्राउंड भेज दिया। करीब तीन से चार गाड़ी भरकर पतरे, टीन शेड, जालियां, दरवाजे, खिड़की और अन्य सामान वहां बिखरा हुआ था। इसके अलावा कुछ गोदामों में रखा प्लास्टिक का सामान भी जब्त कर ट्रेंचिंग ग्राउंड भेंज दिया गया। अब तक जितने भी स्थानों पर निगम द्वारा कार्रवाई की जा रही है, वहां से कई डंपर सामग्री जब्त कर इसी प्रकार ट्रेंचिंग ग्राउंड भेजी गई।

बडऩगर से इंदौर आकर फैलाया आतंक
अधिकारियों के मुताबिक गुंडे मुख्तियार पर कई थाना क्षेत्रों में प्रकरण दर्ज हैं और वह अकसर प्लाटों की धोखाधड़ी और फर्जी कागजातों के मामले में लिप्त रहा है। कई कालोनियों में वह खाली प्लाटों पर कब्जे करता रहा। पुलिस के मुताबिक बडऩगर से आकर उसने इन्दौर में कई क्षेत्रों में ऐसे काम कर अपनी एक अलग टीम बनाकर कामकाज शुरू कर दिया था। धीरे-धीरे पुलिस में शिकायतें बढऩे लगीं तो उसके खेल नजर आने लगे।

लाखों का एडवांस, हर महीने हजारों का किराया
एलआईजी लिंक रोड के पास राधिकाकुंज में कई बड़े-बड़े प्लाटों पर कुख्यात गुंडे मुख्तियार ने न केवल कब्जा कर लिया, बल्कि वहां शेड, गोदाम और दुकानें बनाकर किराए पर भी विभिन्न एजेंसियों को दे दिए थे। पूर्व में भी कई नामी एजेंसियों के गोदाम यहां निगम कार्रवाई के दौरान मिले थे। आज भी जब निगम की टीमें कार्रवाई करने पहुंचीं तो कई लोगों ने उन्हें बताया कि कब्जे कर बनाए गए गोडाउन, दुकान और शेड लाखों की राशि एडवांस लेकर हजारों रुपए महीने के किराए पर दे दिए गए थे।

एक परिवार करता रहा अफसरों से मिन्नत
कार्रवाई स्थल पर जब निगम का अमला गोडाउन, शेड और अन्य कब्जे हटाने में जुटा था तो इसी दौरान वहां एक परिवार पहुंचा और कब्जा कर बनाए गए मकान को न तोडऩे के लिए अफसरों से आग्रह करता रहा। अफसरों ने उन्हें दो टूक चेतावनी दी कि सामान हटा लें, अन्यथा कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी। इसके बाद परिवार सामान हटाने की जुगत में भिड़ गया। निगमकर्मियों ने भी मकान से सामान निकालने में मदद की। कुछ ही देर बाद जेसीबी की मदद से मकान के हिस्सों को ढहा दिया गया।

कुछ और गुंडों के मकानों की जानकारी खंगाली, एक-दो दिनों में कार्रवाई
नगर निगम और पुलिस विभाग के अधिकारियों ने थाना चंदननगर, संयोगितागंज, तुकोगंज और छत्रीपुरा, रावजी बाजार सहित कई अन्य थाना क्षेत्रों के कुख्यात गुंडों की जानकारियां निकलवाई है। हालांकि पुलिस ने पहले ही 20 से ज्यादा गुंडों के मकानों की पड़ताल करा ली थी, लेकिन कुछ अन्य गुंडों के मामले में भी सम्पत्तियों की खोजबीन चल रही है। अधिकारियों का कहना है कि एक-दो दिनों में गुंडों के खिलाफ कार्रवाई कर उनके मकानों को तोड़ा जाएगा। कुछ गुंडों के मकानों के नक्शे स्वीकृत हैं, लेकिन वहां अवैध निर्माण बड़े पैमाने पर होने के मामले भी सामने आए है और निगम नोटिस की प्रक्रिया में जुटा हुआ है, ताकि जल्द से जल्द वहां कार्रवाई की जा सके। यह मुहिम लगातार एक हफ्ते तक चलाने की तैयारी है और इसको लेकर पुलिस विभाग और नगर निगम के अधिकारियों में कई बिन्दुओं में चर्चा भी हो चुुकी है।

Next Post

369 मरीज अस्पताल में भर्ती, बाकी सबका घरों में इलाज, सैम्पल की संख्या भी बढ़ी

Sat Nov 21 , 2020
इन्दौर। आखिर वही हुआ, जिसको लेकर आशंका व्यक्त की जा रही थी। लगातार बढ़ रहे कोरोना मरीजों की संख्या में कल 492 मरीजों का और इजाफा हो गया और इनमें से 369 मरीजों को अस्पताल में भर्ती करना पड़ा। बाकी का इलाज घर में ही किया जा रहा है। स्वास्थ्य […]

Know and join us

news.agniban.com

month wise news

November 2020
S M T W T F S
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930