प्‍लास्टिक के समान का उपयोग हो सकता हैै स्‍वस्‍थ्‍य के लिए हानिकारक, जानियें कैसें?

हम प्लास्टिक पर इस कदर निर्भर है कि पानी पीने की बोतल से लेकर लंच बॉक्स तक में प्लास्टिक का ही इस्तेमाल करते हैं। हम प्लास्टिक का इस्तेमाल तो कर रहे हैं लेकिन उसके दुष्प्रभाव से अंजान है। आप जानते हैं कि प्लास्टिक कई तरह से मानव शरीर के लिए नुकसानदाय है। प्लास्टिक के निर्माण में उपयोग किए जाने वाले रसायन शरीर के लिए विषाक्त और हानिकारक है।

प्लास्टिक के इस्तेमाल से सीसा, कैडमियम और पारा जैसे रसायन सीधे मानव शरीर के संपर्क में आते हैं। ये जहरीले पदार्थ कैंसर, जन्मजात विकलांगता, इम्यून सिस्टम और बचपन में बच्चों के विकास को प्रभावित कर सकते है। प्लास्टिक की पानी की बोतलों या खाद्य पैकेजिंग सामग्री में BPA या स्वास्थ्य-बिस्फेनॉल-ए जैसे अन्य विषाक्त पदार्थ पाए जाते हैं। BPA जब शरीर में प्रवेश करता है, तो यह हमारे शरीर को कुछ गंभीर नुकसान पहुंचा सकता है। BPA थायराइड हार्मोन रिसेप्टर को कम कर सकता है जिससे हाइपोथायरायडिज्म हो सकता है। प्लास्टिक हमारी सेहत को कई तरह से नुकसान पहुंचा सकता है जिससे हम सब अंजान है। प्लास्टिक के कारण हम कई गंभीर बीमारियों से पीड़ित है। आइए जानते हैं कि कैसे प्लास्टिक हमारी सेहत के लिए घातक है और कैसे इससे हम बचाव कर सकते हैं।

प्लास्टिक के कारण होने वाले रोग
दमा
पलमोनेरी कैंसर फेफड़ों के द्वारा जहरीली गैसों में साँस लेने के कारण होता है,जिससे कैंसर होता है।
कैंसर और जिगर को नुकसान होता है
तंत्रिका और मस्तिष्क को नुकसान होता है
गुर्दे की बीमारी होती है
आप भी प्लास्टिक से होने वाले खतरें से रूह बा रूह हो जाएं और प्लास्टिक का कम उपयोग करने पर ध्यान दें। आइए जानते हैं कि हम प्लास्टिक के इस्तेमाल से कैसे बच सकते हैं?

पानी हमेशा प्लास्टिक की बोतल में रहता है इसलिए प्लास्टिक की बोतल का पानी खरीदना बंद कर दें। प्लास्टिक की बोतलें प्लास्टिक के कबाड़ में सबसे अधिक योगदान देती हैं, क्योंकि लगभग 20 मिलियन बोतलें कचरे में डाली जाती हैं।
प्लास्टिक का पूरी तरह बहिष्कार करें। घर से समान खरीदने जाते हैं तो शॉपिंग बैग साथ लेकर जाएं। हालांकि आपको और हमें यह छोटी सी बात लगती है,लेकिन लगन से इसका पालन किया जाए तो आप प्लास्टिक की थैलियों के इस्तेमाल को कम कर सकते हैं।
प्लास्टिक बैग की जगह कार्डबोर्ड चुनें। कार्डबोर्ड जैवनिम्नीकरण है, इसलिए पर्यावरण के अनुकूल है।
चाहे आप घर में हो या रेस्तरां में हों,ड्रिंक्स पीने के लिए स्ट्रॉ का उपयोग करने से बचें।
प्लास्टिक के डिब्बों में खाने-पीने का समान नहीं खरीदें। इससे आप जहरीले विषाक्त पदार्थों से अपनी हिफाजत कर सकते हैं साथ ही आपके घर से प्लास्टिक का कचरे भी कम होगा।
अपने भोजन को टिफिन-बॉक्स या ग्लास कंटेनर आदि में स्टोर करने की कोशिश करें। आप खाने में प्लास्टिक के डिब्बों या थैलियों का इस्तेमाल नहीं करें।
प्लास्टिक पर रोकथाम ना सिर्फ हमारी आज की पीढ़ी के लिए उपयोगी है बल्कि आने वाली पीढ़ियों के लिए इसका बहिष्कार जरूरी है।

नोट – उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव सामान्‍य जानकारी उद्देश्‍य के‍ लिए हैैं । 

Agniban

Next Post

महान फुटबोलर माराडोना के निधन पर उन्‍हें रिजिजू, राहुल सहित अनेक लोगों ने दी श्रद्धांजलि

Thu Nov 26 , 2020
नयी दिल्ली । फुटबॉल इतिहास के महानतम खिलाड़ियों में से एक डिएगो माराडोना (great footballer Maradona) के निधन पर केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू, (Union Sports Minister Kiren Rijiju) कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Congress leader Rahul Gandhi) और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली (BCCI President Saurabh Ganguly) समेत विभिन्न क्षेत्रों से […]

Know and join us

news.agniban.com

month wise news

January 2021
S M T W T F S
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31