इस Device से आसान हो जाएगा स्मार्टफोन Charge करना


दूसरे कमरे में रखा डिवाइस भी हो सकेगा चार्ज
नई दिल्ली। स्मार्टफोन्स (smartphones) को चार्ज करने के लिए पावरबैंक लेकर घुमना या चार्जर रखना पड़ता है। लेकिन पिछले कुछ सालों में फोन चार्जिंग की तकनीक में काफी बदलाव हुआ है और यह काफी बेहतर हुई है। कई कंपनियां सुपर-फास्ट वायरलेस चार्जिंग लेकर आई है। Smartphone में अब 65वाट तक फास्ट चार्जिंग मिल रही है, वहीं 125 वाट तक फास्ट चार्जिंग कई कंपनियों की ओर से पेश की जा चुकी है। लेकिन अब वैज्ञानिकों ने एक और तकनीक खोजी है, जिसमें ऐसी तरंगे निकलती है, जिससे काफी दूर रखा डिवाइस भी चार्ज हो जाता है।
ऐसे काम करता है यह Device
इस डिवाइस की मदद से दूसरे रूम में रखा डिवाइस भी चार्ज किया जा सकेगा। लेजर डिवाइस की मदद से लाइट पार्टिकल्स या फोटॉन्स एक रो में निकते हैं, इससे ठीक उलट एंटी-लेजर डिवाइस रिवर्ड ऑर्डर में एक के बाद दूसरे फोटॉन्स को खींच लेता है। यह टेक्नॉलजी शोकेस करते हुए वैज्ञानिकों ने दिखाया कि भेजी गई पावर का करीब 99.996 प्रतिशत दूर रखा डिवाइस रिसीव कर सकता है। ऐसा तब भी किया जा सकता है, जब आसपास इलेक्ट्रॉनिक्स मूव कर रहे हों और बीच में दीवारें हों।
पावर भेज और प्राप्त कर सकते है
खास तरीके को कोहरेंट परफेक्ट ऐब्जॉर्ब्शन नाम दिया गया है और मशीन की मदद से यूजर्स पावर ( power) को सेंड और रिसीव (send and receive) कर सकते हैं। हालांकि, इसकी कुछ लिमिट्स भी हैं। आने वाले वक्त में इसका इस्तेमाल कर किसी कमरे या बड़ी बिल्डिंग में रखे डिवाइसेज को बिना किसी पावर सप्लाई या फिर वायर के चार्ज किया जा सकेगा। वायरलेस चार्जिंग (wireless charging) की तरह इसमें किसी डिवाइस को एक खास जगह या पैड पर रखने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी।

Next Post

अदालतों में फैला कोरोना, फिर बंद करने की मांग

Thu Nov 26 , 2020
इन्दौर। अभी कोरोना संक्रमण शहर के सभी इलाकों में फैल गया है, जिसके चलते छोटी और बड़ी अदालत में भी वकीलों से लेकर कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव होने लगे हैं। हाईकोर्ट के ही 15 कर्मचारी संक्रमित बताए गए, तो 50 से अधिक अभिभाषक भी संक्रमित हो गए हैं, जिसके चलते हाईकोर्ट […]

Know and join us

news.agniban.com

month wise news

January 2021
S M T W T F S
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31